ई-श्रम कार्ड : जिन श्रमिक कार्डों का पैसा आना है वो यहां से ऑनलाइन प्राप्त करें , सूची में अपना नाम जांचें।

0
46

लॉकडाउन ने मध्यम वर्ग और गरीब लोगों को काफी प्रभावित किया है। क्योंकि उस समय कोरोना के डर से नागरिकों को घर से निकलने तक की इजाजत नहीं थी. ऐसे में उनकी रोजी-रोटी पर विराम लग गया। उसकी संचित पूँजी चलती रही।

हालांकि इससे अमीर वर्ग के लोगों को भी काफी नुकसान हुआ, लेकिन इस नुकसान की तुलना मध्यम वर्ग और निम्न वर्ग के लोगों से नहीं की जा सकती। ऐसे में कई लोग मदद के लिए आगे आए। वहीं, हमारी सरकार ने भी राहत देने की कोशिश की। इस लेख के माध्यम से हम आपको ई-श्रम कार्ड से जुड़ी कुछ खास जानकारी प्रदान करेंगे। तो हमारे साथ अंत तक जुड़े रहें ताकि हम आपके ज्ञान का दायरा बढ़ा सकें।

ई-श्रम कार्ड क्या है?

ई-श्रम पोर्टल के तहत पंजीकृत असंगठित क्षेत्रों के श्रमिकों को 12 अंकों का यूनिवर्सल अकाउंट नंबर (यूएएन नंबर) दिया जाता है। जो पूरे देश के किसी भी कोने में मान्य है। इसे ई-श्रम कार्ड कहा जाता है। वर्तमान में इस पोर्टल से असंगठित क्षेत्र के लगभग 40 करोड़ श्रमिक या मजदूर पंजीकृत हैं। यह योजना 26 अगस्त 2021 को शुरू की गई थी।

ई-श्रम कार्ड कौन बनवा सकता है?

नागरिक जिनकी आयु 16 वर्ष से 59 वर्ष के बीच है, वे ई-श्रम कार्ड के लिए आवेदन कर सकते हैं। केवल उम्र ही काफी नहीं है, इसके साथ ही उनका ईपीएफओ या ईएसआईसी का सदस्य न होना भी अनिवार्य है। श्रम और रोजगार मंत्रालय द्वारा असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों के कल्याण के लिए ई-श्रम बनाया गया है।

ई-श्रम पोर्टल में पंजीकरण के बाद श्रमिकों को ई-श्रम कार्ड दिए जाते हैं। इस कार्ड में 12 अंकों का यूएएन नंबर होता है। कोई भी छात्र ई-श्रम कार्ड के लिए आवेदन नहीं कर सकता है। क्योंकि यह योजना सिर्फ और सिर्फ असंगठित क्षेत्रों में काम करने वाले मजदूरों के लिए बनाई गई है। यह नियमित रोजगार आसानी से उपलब्ध नहीं है।

ई-श्रम कार्ड के बारे में कुछ अन्य बातें:-

पिछले साल केंद्र सरकार ने ई-श्रम पोर्टल को भारतीय जनता के सामने रखा था। जो असंगठित श्रमिकों का केंद्रीकृत डेटाबेस होगा। इसमें रजिस्ट्रेशन कराने वाले नागरिकों को ₹200000 तक का दुर्घटना बीमा कवर मिलेगा। भविष्य में ऐसा हो सकता है कि सामाजिक सुरक्षा योजनाओं का लाभ असंगठित श्रमिकों को इस पोर्टल के माध्यम से वितरित किया जाएगा।

इस पोर्टल के डेटाबेस का उपयोग पात्र असंगठित श्रमिकों को आपात स्थिति या महामारी (कोरोना) जैसी स्थितियों में आवश्यक सहायता प्रदान करने के लिए किया जा सकता है।

पंजीकरण की प्रक्रिया कैसे करें

इसका रजिस्ट्रेशन ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरह से किया जा सकता है। ऑनलाइन आवेदन करने के लिए (eshram.gov.in) का उपयोग किया जा सकता है। इसके माध्यम से आप आसानी से ई-श्रम कार्य के लिए आवेदन कर सकते हैं।

पंजीकरण के लिए आवश्यक दस्तावेज क्या हैं

यदि आप ई-श्रम पोर्टल पर पंजीकरण करने के इच्छुक हैं, तो आपके लिए यह जानना बहुत जरूरी है कि किन दस्तावेजों की आवश्यकता हो सकती है। तो चलिए आपको बताते हैं।

  • आधार कार्ड / आधार संख्या
  • आधार से लिंक मोबाइल नंबर
  • बैंक खाता संख्या
  • मूल निवास प्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट साइज फोटो

ई-श्रम कार्ड 2022

भारत सरकार ने पूरे देश के बेरोजगार मजदूरों के लिए ई-श्रम कार्ड योजना शुरू की है। जिसके द्वारा गरीब मजदूर परिवार को ₹1000 माह भत्ता एवं ₹200000 दुर्घटना बीमा की घोषणा की गई है।

3 जनवरी 2022 को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी ने ई-श्रम पोर्टल पर पंजीकृत मजदूरों को ई-श्रम कार्ड के माध्यम से धनराशि उपलब्ध कराने का शुभारंभ किया है। इसी तरह मजदूरों के खातों में करीब डेढ़ करोड़ रुपये ट्रांसफर किए गए हैं. 2 महीने के भत्ते को एक साथ जोड़ा गया है।

ई-श्रम कार्ड से लोन कैसे प्राप्त करें?

हाँ यह सच है कि ऋण ई-श्रम कार्ड के माध्यम से उपलब्ध है। इसके लिए आपको सबसे पहले यह सुनिश्चित करना होगा कि आपके पास ई-श्रम कार्ड है। अगर आपके पास ई-श्रम कार्ड नहीं है तो आप लोन नहीं ले सकते।
तो आप इसकी आधिकारिक वेबसाइट पर जा सकते हैं

  • आपको pmsvanidhi.mohua.gov.in पर जाना होगा।
  • इसके बाद आप इसके होम पेज में जो लोन राशि लेना चाहते हैं उसे चुनें और मोबाइल नंबर डालकर ओटीपी के जरिए वेरिफाई करें।
  • आपका ऋण स्वीकृत हो जाएगा। और जल्द ही आप तक पहुंचेगा।

ई-श्रम कार्ड जनरेट करने की पात्रता क्या है?

  • भारत का स्थानीय निवासी होना चाहिए।
  • आयु 15 से 60 वर्ष के बीच होनी चाहिए
  • आप असंगठित क्षेत्र में काम करते हैं।
  • पूर्व में किसी सरकारी योजना का लाभ नहीं मिला।
  • उत्तर प्रदेश राज्य के सभी नागरिक जिनके पास ई-श्रम कार्ड है, यदि वे अपने ई-श्रम कार्ड भुगतान विवरण की जांच करना चाहते हैं, तो इसके लिए निम्नलिखित उपाय प्रभावी होंगे।

यह जानने के लिए कि भुगतान ई-श्रम कार्ड के माध्यम से किया गया है या नहीं, पासबुक को अपडेट करना होगा।
यदि आप आधुनिक बैंकिंग सुविधा नेट बैंकिंग का उपयोग करते हैं तो आप आसानी से जांच सकते हैं कि भुगतान ई-श्रम कार्ड योजना के तहत किया गया है या नहीं।

इन सबके अलावा आप अपने बैंक के हेल्पलाइन नंबर पर कॉल करके भी अपनी पूछताछ पूरी कर सकते हैं।
वे सभी ई-श्रम कार्ड धारक जो एटीएम कार्ड या डेबिट कार्ड का उपयोग करते हैं, एटीएम मशीन के माध्यम से आसानी से अपने बैंक बैलेंस की जांच कर सकते हैं। और यह स्पष्ट किया जा सकता है कि उन्हें ई-श्रम योजना के तहत लाभ मिला है या नहीं।

अंत में, आप अपने बैंक के बैलेंस इन्क्वायरी नंबर पर एक संदेश भेजकर भी अपने बैंक बैलेंस की जांच कर सकते हैं।
इसलिए, आप सभी ई-श्रम कार्ड धारक उपरोक्त उपायों द्वारा अपने बैंक बैलेंस की जांच करके आसानी से पता लगा सकते हैं कि आपको ई-श्रम कार्ड योजना के माध्यम से वित्तीय सहायता मिली है या नहीं।

निष्कर्ष

सरकार द्वारा लाई गई ई-श्रम कार्ड योजना के मुख्य बिंदुओं का उल्लेख उपरोक्त लेख में विस्तार से किया गया है।तो हम आशा करते हैं कि आपको हमारा यह लेख पसंद आया होगा। अगर हां तो इसे अपने दोस्त के साथ जरूर शेयर करें और साथ ही अगर आपका इस आर्टिकल से जुड़ा कोई सवाल है तो कमेंट के जरिए हमसे जरूर पूछें।

जरूर पढ़े …..

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here